CDCC बैंक के फरार मुख्य आरोपी निखिल घाटे गिरफ्तार

0
376

चंद्रपुर : स्थानीय जिला मध्यवर्ती सहकारी बैंक में उजागर हुई करोड़ों की हेराफेरी के मामले में 20 दिनों से फरार मुख्य आरोपी निखिल घाटे को सोमवार 1 मार्च को स्थानीय पुलिस ने नागपुर से गिरफ्तार कर लिया।

यह आरोपी अपराध दर्ज किए जाने के बाद से पिछले 20 दिनों से फरार था, एलसीबी के अधिकारी उसकी सरगर्मी से तलाश कर रहे थे। इस बीच आरोपी निखिल वर्धा से नागपुर में एक निजी वाहन से अपने किसी रिश्तेदार के यहां जाने की गुप्त सूचना पुलिस को प्राप्त हुई थी।

जिला पुलिस अधीक्षक अरविंद सालवे ने आरोपी को पकड़ने की जिम्मेदारी एलसीबी के पुलिस निरीक्षक को सौंपते हुए एक जांच टीम बनाई थी।

इस टीम ने बुटिबोरी से नागपुर तक जाल बिछाया था तथा संदिग्ध वाहनों की तलाशी शुरू की थी। तलाशी के दौरान पुलिस को खापरी नाके के पास एक वाहन में सीडीसीसी बैंक हेराफेरी के मामले का मुख्य आरोपी निखिल पाया गया। उसकी शिनाख्त होते ही पुलिस ने उसे दबोच लिया और गिरफ्तार कर लिया।

गौरतलब है कि, सीडीसीसी बैंक की जिला परिषद के सामने वाली शाखा में रुपयों के गबन का एक मामला 12 फरवरी को उजागर हुआ था। इसी शाखा के एक अधिकारी ने रामनगर पुलिस में शिकायत दर्ज करते हुए बैंक से 69 लाख रुपये गबन होने की शिकायत दर्ज की थी।

प्राथमिक जांच के बाद पुलिस और बैंक प्रशासन ने इस मामले की गहन जांच शुरू की तब बैंक से कुल 3 करोड़ 54 लाख की हेराफेरी होने की बात उजागर हुई थी। प्राप्त शिकायतों के आधार पर पुलिस ने आरोपी निखिल घाटे के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। तब से ही पुलिस आरोपी की खोजबीन कर रही थी।