Corona free village contest : राज्य सरकार की पहल, गांव को कोरोना मुक्‍त करो और जीतो लाखों के इनाम

• पहले पुरस्‍कार के रूप में मिलेंगे 50 लाख रुपये
• दूसरे विजेता को 25, तीसरे विजेता को 15 लाख मिलेंगे
• फैसला करने के लिए किया जाएगा समिति का गठन

मुंंबई : महाराष्‍ट्र में कोरोना मुक्त गांव पुरस्‍कार योजना का ऐलान किया गया है. ग्राम विकास मंत्री हसन मुशरिफ ने इसकी घोषणा की. इस योजना के अंतर्गत राज्‍य के सभी 6 राजस्व विभाग में 3 ग्राम पंचायत को पुरस्कार दिए जाएंगे.पहला पुरस्कार 50 लाख, दूसरा 25 और तीसरा पुरस्कार 15 लाख का होगा. महाराष्ट्र सरकार ने ग्रामीण इलाकों में कोविड-19 को फैलने से रोकने के कदम उठाने के लिए प्रेरित करने के मकसद से इस “कोरोना मुक्त गांव” प्रतियोगिता की घोषणा की है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए कुछ गांवों द्वारा किए प्रयासों की हाल ही में प्रशंसा की थी.राज्य के ग्रामीण विकास मंत्री हसन मुशरिफ ने एक बयान में कहा कि ‘कोरोना मुक्त गांव” प्रतियोगिता मुख्यमंत्री द्वारा घोषित की गई पहल का ही हिस्सा है. इस प्रतियोगिता के तहत प्रत्येक राजस्व मंडल में कोविड-19 से निपटने के लिए अच्छे काम करने वाली तीन गांव पंचायतों को इनाम दिए जाएंगे.

मंत्री ने बताया कि प्रथम पुरस्कार के तहत 50 लाख रुपये दिए जाएंगे, दूसरे विजेता को 25 लाख और तीसरे विजेता को 15 लाख रुपये दिए जाएंगे. उन्होंने कहा कि राज्य में छह राजस्व मंडल है इसलिए कुल 18 पुरस्कार होंगे. इनाम की कुल राशि 5.4 करोड़ रुपये हैं.मंत्री ने बताया कि प्रतियोगिता जीतने वाले गांवों को प्रोत्साहन के तौर पर इनामी राशि जितनी ही अतिरिक्त धनराशि दी जाएगी और इसका इस्तेमाल इन गांवों में विकास कार्यों के लिए किया जाएगा.

हसन मुशरिफ ने बताया कि प्रतियोगिता में भाग लेने वाले गांवों को 22 मानदंडों पर परखा जाएगा. इसका फैसला करने के लिए एक समिति गठित की जाएगी.ठाकरे ने रविवार को एक वर्चुअल संबोधन में महाराष्ट्र के सबसे युवा सरपंच ऋतुराज देशमुख (21) और उनके कार्यबल की सोलापुर जिले में अपने घाटणे गांव को कोरोना वायरस से मुक्त रखने के लिए तारीफ की थी.