नकली शराब आपूर्ति के लिए ‘आंबटकर’ को ‘धानोरकर’ का साथ

0
1369

गांधी जिले से चंद्रपूर मे हो रही है अवैध शराब की तस्करी

चंद्रपूर : वर्धा जिले के हिंगणघाट – समुद्रापुर निवासी प्रशांत उर्फ (बंडू) आंबटकर और बुट्टीबोरी के संदीप धानोरकर यह दोनों अवैध व्यवसाई मिलकर विगत 5 वर्षों से लगातार शराब बंदी वाले चंद्रपुर जिले में ‘D’ दर्जे की नकली शराब की तस्करी और आपूर्ति कर रहे हैं.
तस्करी के दौरान जिले के वरोरा, भद्रावती, पडोली, मूल, रामनगर, सिटी पुलिस थानों में शराब तस्करी के अनेक मामलें दर्ज होने के बावजूद प्रशांत आंबटकर व संदीप धानोरकर के खिलाफ पुलिस द्वारा क्यों कारवाही नही की गई ऐसा सवाल नागरिको ने किया है। खुलेआम नकली व अवैध शराब की तस्करी करने वाले पुलिस के हत्थे नहीं चढ़े फ़िर भी यह दोनों ने अपनी टीम बनाकर सफेद रंग के दो स्कार्पियों, एक पोलो, एक पुंटो के अलावा अन्य छोटी बड़ी वाहनों से लगातार नागपुर व हिंगणघाट से बनावटी ‘D’ दर्जे की शराब को चंद्रपुर जिले के विभिन्न शहरों में सप्लाई की जा रही हैं।

वर्ष 2017 में अभिनेता शारुख खान की ‘रईस’ फ़िल्म तर्ज़ पर खुलेआम नागपूर व गांधी के शराब बंदी वर्धा जिले से बनावटी ‘D’ दर्जे की शराब को चंद्रपुर में सप्लाई कर मालामाल हो रहे हैं। आंबटकर पांच साल से ‘रईस’ बनकर जिले में रोजाना लाखों रुपए का शराब की आपूर्ति कर रहा है। जबकि इस ‘रईस’ पर चंद्रपुर जिले के विभिन्न शहरों के थाने में दर्जनों मामलें दर्ज होने के बावजूद भी पुलिस हत्थे क्यों नहीं चढ़ रहा है ये समझ से परे हैं!

आंबटकर पर चंद्रपूर पुलिस द्वारा मकोका का प्रस्ताव भी तैयार किया गया था। लेकिन आज भी यह ‘रईस’ चंद्रपुर पुलिस के गिरफ्त से बाहर हैं। चर्चा ये भी है की, इन लोगों को बड़े हस्तियों का आशिर्वाद हैं।