ढाई दशक से लगातार बोरवेलों से बह रहा पानी

0
260

चंद्रपुर : जिले के गोंडपिपरी तहसील के कन्हारगांव को हालही में राज्य सरकार ने अभयारण्य घोषित किया है. इसी गांव में तीन ऐसी बोरवेल हैं जो विगत 25 वर्षों से लगातार पानी बह रहा है. संभावना यह जताई जा रही है कि बोरवेल के नीचे कोई जलस्रोत होगा, इसलिए पानी बहता रहता है यह जानकारी कान्हारगांव से सटे तिवंडा दुवारपेठ के उपसरपंच दीपक पेंदोर ने दी.

बताया जाता हैं कि, एक बोरवेल कन्हारगांव लकड़ा डिपो में है, दूसरी रेस्ट हाउस से सटकर तथा तीसरी कन्हारगांव में है. तीनों बोरवेल से बिना चलाये ही लगातार पानी बहता रहता है. ढाई दशक पूर्व इन बोरवेल को वनविभाग द्वारा खुदवाया गया था. उसी समय से लगातार पानी बहता रहता है.

विशेष बात यह है कि ग्रीष्मकाल के दिनों में इस क्षेत्र के अनेक कुएं तालाब और अन्य जलस्रोतों का जलस्तर कम हो जाता है अथवा सूख जाते है किंतु इन तीनों बोरवेल से लगातार पानी आता रहता है.