ZRUCC सदस्य अजय दुबे ने पिटलाइन कार्य का लिया जायजा

0
142

बल्लारपुर : ZRUCC मध्य रेलवे मुंबई सदस्य अजय दुबे ने आज बल्लारशाह रेलवे स्टेशन में निर्माणाधीन महत्वाकांक्षी योजना पिटलाइन को भेंट दे कार्य का जायजा लिया.

इस मौके पर श्री नागदेवे सहा. मंडल अभियंता, श्री विनयकुमार श्रीवास्तव IWO, भाजपा ट्रांसपोर्ट आघाड़ी तालुकाध्यक्ष श्री गुलशन शर्मा,प्रतीक बारसागड़े विद्यार्थी आघाड़ी जिला महामंत्री,श्रीनिवास कंदकुरी, युवा नेता रिंकू गुप्ता, खुशाल सिंह आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे.

पिटलाइन हैं क्या 
बल्लारशाह रेलवे स्टेशन का भूमिपूजन 7 मार्च 2019 को तत्कालीन केंद्रीय गृहराज्यमंत्री श्री हंसराज अहीर ने किया था.लेकिन आगमी चार माह तक काम शुरू नहीं हुआ.अंततः तत्कालीन वित्तमंत्री एवं स्थानीय विधायक श्री सुधीर मुनगंटीवार के निर्देश पर DRUCC मेम्बर अजय दुबे ने तत्कालीन DRM श्री सोमेश कुमार से मुलाकात कर लगातार फॉलोअप कर काम शुरू करवाया.सितंबर 2019 में काम शुरू होकर मार्च 2020 से अगस्त 2020 कोविड के कारण बंद रहा. जो कि जून 2021 तक पूर्ण हो जाने की उम्मीद है.

पिटलाइन
साढ़े आठ करोड़ की वर्तमान बजट वाली पिटलाइन का बजट पहले साढ़े ग्यारह करोड़ था. स्वीकृति हेतु नागपुर भेजने पर तीन करोड़ रुपये कम मंजूर हुये. पता चला कि इस्टीमेट में पिटलाइन के लगभग 600 स्क्वेयर फुट को शेड से कवर करने का विषय हटा देने से ऐसा हुआ है. अर्थात बोगियों की सर्विसिंग अब खुले आसमान के नीचे होगी जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है.

पिटलाइन एक तरह का सर्विसिंग स्टेशन है जहाँ आवागमन करनेवाली यात्री ट्रेनों की धुलाई, मरम्मत, तकनीक जांच, बिजली कार्य, स्वच्छता कार्य आदि होंगे.इस के रैम्प पर
एक साथ 26 बोगियों की सर्विसिंग की जा सकती है.

पिटलाइन से बल्लारशाह स्टेशन को लाभ

पिटलाइन पूर्ण होने के बाद बल्लारशाह रेलवे स्टेशन से देश भर में कही के लिये भी सीधी ट्रेन सेवा शुरू की जा सकती है.फिलहाल में ये सुविधा न रहने से काजीपेट-पुणे,ताडोबा, एवं आनंदवन एक्सप्रेस काजीपेट से छोड़ी जा रही हैं., इन्हें अब सीधे बल्लारशाह से शुरू किया जा सकता है नागपुर मुंबई सेवाग्राम एक्सप्रेस में यहाँ से छह डिब्बे वर्धा पैसेंजर ट्रेन के मार्फ़त वर्धा स्टेशन ले जा कर जोड़े जाते हैं. लेकिन अब पिटलाइन रहने से किसी पर निर्भर न रहते हुए बल्लारशाह-मुंबई सीधे 24 डब्बों की ट्रेन चलाई जा सकती है. गोंदिया से मध्य एवं उत्तर भारत हेतु कई ट्रेन चलती हैं जिन्हें बल्लारशाह से चलाया जा सकता है.पिटलाइन के कारण निकट भविष्य में इस स्टेशन का भविष्य उज्ज्वल है. चंद्रपुर गडचिरोली जिले के यात्रियों हेतु देश के विभिन्न कोनो में यात्रा करना सुगम हो जायेगा।