‘वीर’ के घर लौटते ही 48 घंटों में अपहरणकर्ता गिरफ्तार

0
1817

घुग्घूस (चंद्रपूर) : शहर के प्रतिष्ठित व्यापारी सन्नी खारकर के 8 वर्षीय पुत्र वीर सन्नी खारकर का शहर के पुराने बस स्थानक समीप दुर्गा माता मंदिर परिसर से अपहरण किया गया था। यह घटना 3 नवंबर की शाम को घटी थी। इस मामले की गंभीरता को देखते हुए घुग्घूस पुलिस ने आरोपी की तलाश शुरू कर दी थी। घटना के 48 घंटों बाद कल गुरुवार 5 नवंबर को पुलिस को आरोपी को पकड़ने में सफलता मिली है।

इस घटना में पुलिस ने आरोपी गणेश साईनाथ पिंपलशेंडे (23) को गिरफ्तार किया है आरोपी गणेश घुग्घूस के ड्रीम लैंड सिटी का निवासी है। यह कार्यवाई को घुग्घूस पुलिस के अपराध शोध पथक ने अंजाम दिया। आगे की कार्यवाही घुग्घूस पुलिस कर रही है।
3 नवंबर शाम 5 बजे के आसपास 8 वर्षीय वीर सन्नी खारकर को एक अज्ञात व्यक्ति ने अपहरण किया था। अपहरण की जानकारी मिलने पर घुग्घूस पुलिस सहित चंद्रपुर के अन्य पुलिस दल खोजबीन शुरू की थी। सोशल मीडिया में भी इस घटना की चर्चा जोरों पर थी। अपहरण के 12 घंटे के भीतर वीर सन्नी खारकर की शोध करने में पुलिस को सफलता मिला। गुरुवार सुबह नागपुर के सोनेगांव से वीर को घुग्घूस पुलिस ने घूग्घुस लाया गया था।

घुग्घूस पुलिस के मुताबिक 3 नवहेंबर को घुग्घुस के रहनेवाले सन्नी खारकर ने घुग्घूस पोलीस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई थी कि इनका लड़का 8 वर्षीय वीर सन्नी खारकर घर से लापता है किसी अज्ञात के साथ वाहन पर दिखने को जानकारी दी। जिस पर घुग्घूस पोलीस ने अज्ञात के खिलाफ अपराध क्रमांक 254/20/363 भादवि के तहत मामला दर्ज किया था।

FZ वाहन क्रमांक MH 34 AX 1274 कि जांच पड़ताल के दौरान घुग्घूस के 23 वर्षीय ड्रीम लैंड सिटी क्षेत्र के रहनेवाला गणेश साईनाथ पिंपलशेंडे को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर युवक ने अपराध का स्वीकार किया। जिस के आधार पर पुलिस ने मामला दर्ज किया है और आगे की जांच घुग्घूस पुलिस कर रही है।

घटना के बाद घुग्घूस पोलीस स्टेशन में चंद्रपुर के उपविभागीय पुलिस अधिकारी शिलवंत नांदेडकर ने घुग्घूस थाने में भेट दि और थानेदार राहुल गांगुर्डे के मार्गदर्शन में सपोनी गोरक्षकनात नागलोन, घुग्घूस पुलिस स्टेशन, गुन्हा शोध पथक के स. फौ. गौरीशंकर आमटे, एमपीसी. सुधीर मत्ते, प्रकाश करमें , पिसी. सचिन बोरकर, नीलेश तुमसरे, रंजीत बूरसे, सचिन ढोहे, नितिन मराठे ने कार्रवाई कि है।