घुग्घुस नगर परिषद, बरसों के संघर्ष के बाद मंजूर

0
829

शहर में खुशी की लहर : काँग्रेस की ओर से आतिषबाजी कर लडडू बांटे गये

चंद्रपुर : जिले के पालकमंत्री विजय वड्डेटीवार ने आज 29 ऑगस्ट को नियोजन भवन चंद्रपूर में घुग्घुस ग्रामपंचायत को नगरपरिषद का दर्जा दिये जाने की जानकारी दी और दो दिनों में अधिसूचना जारी करने की जानकारी भी दी है।
जिले के औद्योगिक शहर घुग्घुस पिछले 27 वर्षों से नगरपरिषद दर्जे के लिये संघर्ष कर रहा था।
जनसंख्या के साथ – साथ सभी मापदंड पूर्ण करने के बावजूद भी घुग्घुस नगरपरिषद के लिये वर्षों तरसता रहा।
अनेक राजनितीक दल व सामाजिक संघटनाओं ने मिलकर जेल भरो, भीक मांगों, धरणा, भूख हडताल, विरु गिरी, सद्बुद्धी यज्ञ, स्वाक्षरी अभियान कर प्रशासन का ध्यान आकर्षण करने का निरंतर प्रयास किया।

तत्कालीन विधायक सुधीर मुनगंटीवार ने 22 वर्ष पूर्व घुग्घुस को नगरपरिषद बनाने की घोषित की थी।
इसके बाद शहर के मूलनिवासी चंद्रपुर जिलापरिषद के अध्यक्ष देवराव भोंगळे रहते हुए जिलापरिषद में घुग्घुस ग्रामपंचायत को नगरपरिषद बनाने का प्रस्ताव खारीज किया, ऐसा आरोप जिलापरिषद के विरोधी दल गट नेता डॉ. सतीश वारजूरकर ने लगाया था !

घुग्घुस के भाजपा की एक जिला परिषद दो पंचायत समिती सदस्यों की जगह बरखास्त होने की एक वजह हो सकती हैं और नगरपरिषद की मांग खारीज करने का सबब हो सकता है ऐसा जनमानस की  अवधारणा हो गई थी ?

घुग्घुस की जनता निराश हो गई लेकीन वक्त ने पाला बदला और राज्य में महाविकास आघाडी सरकार का गठन हुवा
साथ साथ क्षेत्र के खासदार व आमदार भी बदल गये
कई वर्षों के संपने को साकार करने की जिद्द मन में लेकरं घुग्घुस काँग्रेस कमिटी के अध्यक्ष राजूरेड्डीने पालकमंत्री विजय वड्डेटीवार, सांसद बाळु धानोरकर, विधायक किशोर जोरगेवार इन सभी को लेकरं अनेक बार अपने सहयोगी कामगार नेता सय्यद अनवर के साथ मिलकर अनेक बार मुंबई मंत्रालय के भेट दी।

पालकमंत्री तथा विधायक के साथ नगर विकास मंत्री एकनाथ शिंदे से भी मिलकर गुहार लगाई
अपने कार्यकर्ता की अपने गाव विकास की तडप देख पालकमंत्री वड्डेटीवारने घुग्घुस नगरपरिषद के लिये जी – जान लगादी और अंत में मेहनत रंग लाई और दो दिनों के बाद घुग्घुस नगरपरिषद की अधिसूचना जारी की जा रही है।

58 वर्ष पूर्व 1962 में घुग्घुस ग्रामपंचायत की स्थापना हुई थी अब तक 30 सरपंचोंने पदभार संभाला वर्ष 2000, 2010 तथा और 2017 में भाजपा के सरपंच रहे बाकी अधिकांश समय काँग्रेस के ही सरपंच रहे है घुग्घुस को जिले श्रीमंत ग्रामपंचायत भी कहा जाता है।