हाईकोर्ट वकील दंपति Gattu Vaman Rao और Nagmani मर्डर केस : एसीपी रैंक के अधिकारी करेंगे मामले की जांच

0
344

मंथनी के रहनेवाले हाईकोर्ट के वकील दंपति गट्टु वामन राव और नागमणि हैदराबाद से मंथनी आ रहे थे, इस बीच रामगिरी के निकट बुधवार 17 फरवरी को वकील के क्रेटा कार को ओवरटेक कर रोक दिया और दंपति पर दारदार हथियारों से हमला किया। गंभीरू रूप से घायल होने पर दंपति की मौत हुई।

पेद्दापल्ली : तेलंगाना के पेद्दापल्ली जिले में हाईकोर्ट वकील दंपति गट्टू वामन राव और नागमणि की नृशंस हत्या मामले की जांच अब लिए असिस्टेंट पुलिस कमिश्नर रैंक के अधिकारी करेंगे। इस मामले की जांच के लिए एक अधिकारी को नियुक्त भी कर लिया गया है। बता दें कि अभी तक पुलिस ने इस मामले चार लोगों को गिरफ्तार किया है।

पता चला है कि मामले में रामगिरी और मंथनी के पुलिसकर्मी से इस मामले में सॉफ्ट रूख अपना रहे थे। इस वजह से इन पुलिसकर्मियों को जांच से दूर रहने के लिए कहा गया है। मथानी पुलिस को जांच से दूर रहने के लिए इसलिए कहा गया, क्योंकि मृतक दंपति ने थाने में एक दलित व्यक्ति की कथित हिरासत में मौत पर जनहित याचिका दायर की। जबकि रामगिरी पुलिस पर लापरवाही का आरोप है क्योंकि हत्या रामगिरी पुलिस के अधिकार क्षेत्र में हुई थी।

छह सदस्यीय टीम मामले की जांच में एसीपी रैंक के अधिकारी की मदद करेंगे। हत्या के दौरान सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो भी पुलिस को मिले थे जिन्हें आगे की जांच के लिए फोरेंसिक लैब भेजा गया हैं। भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 34, 120B, 302, 341  के तहत मामला दर्ज की और इस हत्याकांड में अभीतक कुंटा श्रीनिवास, चिरंजीवी और अक्कापाका कुमार, बिट्टू श्रीनू को गिरफ्तार किया गया है।