माता – पिता की मौत से अनाथ बन गये नन्हें बच्चे

0
1218

9 लाख का मुआवजा देने खेती मालक तैयार

घुग्घुस (चंद्रपुर) : शांती नगर वॉर्ड क्रं 06 के सोनबा लक्ष्मण बांदूरकर के खेत शिवार में आज सुबह संदेश स्वामीदास तक्काला उम्र 30 वर्ष व उसकी पत्नी उमेश्वरी उम्र 28 वर्ष यह खेत में मृत अवस्था में पड़े मिले.

ये दम्पती रात 10 बजे के करीब खेत में गये थे. इस वक्त जनावरों से खेती की रक्षा करने के लिए लगाये गये जिवंत विद्युत तार से उनका स्पर्श हुआ और इसमें दोनों को अपनी जान गंवानी पड़ी.

मृतक दम्पती को 2 छोटे-छोटे बच्चे है. अचानक माता-पिता की मौत से उनके सिर का साया उठ गया है. दोन्हों नन्हे बच्चे बिलख रहे है. उनका रोना देखकर समाज बंधू विचलित हुए. सर्वत्र शोक व्यक्त किया जा रहा है.

घटना की जानकारी मिलते ही घुग्घुस पोलीस स्टेशन के ठाणेदार राहुल गांगुर्डे अपने पथक के साथ घटना स्थल पहुंचे. इसकी जानकारी उन्होंने वरिष्ठ अधिकारी को दी. पोलीस उप- विभागीय अधिकारी शिलवंत नांदेडकर भी घुग्घुस पहुंच गये. घटना स्थल पर काँग्रेस नेता राजू रेड्डी, कामगार नेता सैय्यद अनवर, पंचायत समिती के माजी उप – सभापती निरीक्षण तांड्रा, चिंनाजी नलभोगा, रामीला आनंद, प्रकाश बोबडे व बड़ी संख्या में गाववासी एकत्रित हुए. मुआवजा दिये बिना मृतक के शव को नहीं उठाने की चेतावनी दी.
इसलिए परिसर में तणाव की परिस्थिती निर्माण हुई. पोलिस ने तुरंग दंगा नियंत्रण पथक बुलाया.

काँग्रेस नेता राजु रेड्डी के माध्यम से रिश्तेदारों ने खेत मालक किसान से 50 लाख रुपये की मांग की. चर्चा के बाद दोनो बच्चो के नाव पर चार चार लाख रुपये व अंतीम संस्कार के लिएए एक लाख देने के लिए किसान तैयार हुआ. पोलीस स्टेशन में यह चर्चा के बाद उसने मंजूर किया. प्रकरण की जांच घुग्घुस पोलीस कर रही है.